वास्तु: घर के आसपास कभी न लगाएं ये 7 पेड़-पौधे, नहीं तो…

यूं तो घर के आसपास पेड़-पौधे होना सेहत के लिए बहुत अच्‍छा होता है लेकिन वास्तु के अनुसार कुछ ऐसे पेड़-पौधे भी हैं जिन्हें घर के आसपास बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए. ऐसा इसीलिए है क्योंकि कुछ पौधों के घर के आसपास होने से नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है और घर में भारी नुकसान होने लगता है.

चलिए जानते हैं कौन हैं वे पेड़ जो घर के लिए शुभ नहीं हैं.

पीपल के पेड़ के बारे में तो आपने सुना ही होगा. ऐसा माना जाता है कि पीपल के पेड़ में नकारात्मक ऊर्जा होती है. इसीलिए पीपल के पेड़ की टहनियां भी घर के आसपास नहीं होनी चाहिए.

पीपल के पेड़ की तरह ही बरगद के पेड़ के बारे में भी ऐसी ही बातें कही जाती है. इसके अलावा बांस का पेड़, शमी का पेड़ भी घर के बाहर नहीं होना चाहिए.

अगर आपके घर में उन्नति नहीं हो रही है तो आपको ध्यान रखना चाहिए घर में या आसपास केले का पेड़ या फिर नींबू का पेड़ ना लगाएं.

यदि घर में फल देने वाले अमरूद या जामून के पेड़ हैं तो अच्छा है लेकिन इसके अलावा कोई और फल देने वाला पेड़ घर के आसपास या आंगन में न लगाएं. इससे घर के बच्चे बीमार पड़ सकते हैं.

कैक्टस जैसे कांटेदार पौधों को भी घर में नहीं लगाया चाहिए. इससे दुश्मन बढ़ते हैं.

अगर धन की हानि होने से बचाना चाहते हैं तो घर में या आसपास ऐसे पेड़ ना लगाएं जिनसे गोंद निकलता हो.

घर में अगर सुख-शांति रखनी है और घर को कलह से बचाना है तो ध्यान रखें कटहल का पेड़ ना लगाए.

घर की पूर्व दिशा की तरफ गुलाब के पौधे, पीपल का पेड़ और किसी भी तरह का फलदार पड़ नहीं लगाना चाहिए. ऐसा होने पर घर में संकटों के बादल छा जाते हैं और नकारात्मक ऊर्जा का वास होता है. घर के वासियों को कलह और कष्ट की जिंदगी बितानी पड़ सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *